गुरद्वारे का प्रशाद खाने से बच्चे की मौत और 15 बच्चे बीमार (विडिओ)

Batala Punjab

बटाला (सुखबीर सोखी) आज सुबह गुरदासपुर के शहर बटाला के एक इलाके में सहम का माहौल  बन गया जब इलाके के करीब 15 बच्चे बीमार हो गए जिनका इलाज अलग अलग जगह हो रहा है । वहीँ बताया जा रहा है की बीती देर शाम को इन बच्चो की तरफ से गुरद्वारा में से प्रशाद खाने की वजह से उनकी हालात बिगड़ी है। इसी इलाके के रहने वाले एक परिवार में एक बच्चे की मौत भी हुई है। पीडत परिवार वालो का कहना है के बच्चो की यह हालत गुरद्वारा से मिले कड़ाह प्रशाद खाने के कारण हुई है उधर पुलिस की तरफ से  इस सारे मामले में जाँच शुरू कर दी गई है
गुरदासपुर के बटाला में पड़ते गुरु नानक नगर में आज सुबह सहम का माहौल बन गया जब इलाके के तकरीबन 15 बच्चो की सेहत बिगड़नी शुरू हो गई और एक बच्चे की मौत हो गई मृतक बच्चे के परिवारिक मेम्बरो ने बताया के कल शाम बच्चा और उसकी माँ गुरुद्वारे साहिब माथा टेकने गए तब वहाँ से मिले प्रशाद को खाने से बच्चे और उसकी माँ की देर रात सेहत बिगड़ने लगी माँ को उलटी आने से वह तो बच गई लेकिन बच्चे को डॉक्टर के पास ले जाते समय रस्ते में ही बच्चे की मौत हो गई मृतक बच्चे के परिवारिक मेम्बर बच्चे की  मौत का कारण प्रशाद को ही बता रहे है
वही गुरुद्वारे साहिब के बाहर इकठा हुए बीमार बच्चो के पारिवारिक मैम्बर का कहना है के मेम्बरो ने कहा के कल बीती शाम बच्चो ने इलाके में पड़ते गुरुद्वारा गुरु तेग बहादुर साहिब से मिले कड़ाह प्रशाद को खाया था उसके बाद बच्चो की देर रात को सेहत बिगड़ने लगी और  बच्चो को डॉक्टरों के पास लेकर गए तो बच्चो को दवा मिलने से बच्चो की हालत में सुधार हुआ उनका कहना था के इस प्रशाद का ज्यादा असर छोटे बच्चो पर हुआ है साथ ही उनका कहना है के इस सारे मामले की जाँच होनी चाहिए
वही गुरद्वारा साहिब के सेक्टरी कुलवंत सिंह का कहना है इलाके के किसी के घर में कोई प्रोग्राम था और उन घर वालो ने वही से बचा हुआ कड़ाह प्रशाद गुरद्वारा साहिब में दे दिया और वही प्रशाद गुरुद्वारे साहिब में बरता दिया गया लेकिन आगे से ऐसे नही किया जायेगा
उधर इस सारी घटना  की जाँच कर रहे पुलिस अधिकारी का कहना है के यह घटना  बहुत दुखदाई है और पुलिस ने पूछताछ के लिए गुरद्वारा सहिब के ग्रन्थी को अपनी हिरासत में ले लिया और जाँच में जो भी सामने आएगा उसी के हिसाब से आगे की कारवाही की जाएगी

Leave a Reply