सिख एतिहास को जन जन तक पहुंचाने के लिए यमुनानगर में संत निश्चल सिंह थडा साहिब हैरीटेज बनाया जा रहा

Haryana yamunanagar

  यमुनानगर (लोकेश कुमार) हरियाणा में सिख एतिहास को जन जन तक पहुंचाने के लिए अब यमुनानगर में संत निश्चल सिंह थडा साहिब हैरीटेज बनाया जा रहा है जिसमें उन चीजों को सामने लाया गया है जेा मुगल समराज्य में धर्म परविर्तन के लिए दूसरे धर्म के लोगो के साथ हुआ था और ऐसे में उस समय में सिखों ने क्या एतिहास रचा उसके स्टैचु तैयार कर 12 एकड भूमि पर म्यूजिअम तैयार कर उसे लोगो के लिए खोला जाएगा हालाकि शुरूवाती तौर पर तो एक दर्जन के करीब स्टैचु होली वाले दिन रखे जाएंगे जबकि तीन साल में एक सौ से ज्यादा स्टैचु यहा लगाकर एक यादगार संग्राहल्य बनाया जाएगा

  यमुनानगर के थडा साहिब में सिखों के मुगलकाल के दौरान दी गई कुरबानिया और उन द्वारा किए गए काम को लेकर उनके स्टैचु तैयार कर एक हैरीटेज तैयार किया जा रहा है जोकि 12 एक डमें फैला होगा और उस म्युजिअम में मुगलो के द्वारा जो जो काम किए गए थे उनको दिखाया जाएगा शुरूवाती तौर पर इसका शुभारंभ होली वाले दिन किया जाएगा जिसमें भाई मतिदास भाई तारू सिंह बाबा बंदा सिंह बहादुर भाई कन्हैया सिंह जी भाई मनीचंद और मस्सा रंगड आदि के स्टैचु तैयार किए गए है जबकि इस म्युजिअम में तीन साल के अंदर अंदर एक सौ से ज्यादा स्टैयु तैयार कर हरियाणा में एक सिख यादगार संग्राहल्य तैयार किया जाएगा बता दे कि इससे पहले हरियाणा में कोई भी ऐसी जगह नही है यहा पर इस प्रकार का कोई म्युजिअम तैयार किया गया हो लेकिन अब जब यह म्युजिअम तैयार किया जा रहा है तो अभी से ही लोगो का तांता लगना शुरू हो गया है यमुनानगर के अंदर दाखिल होते ही गुरूद्वारा थडा साहिब जोडिया में यह म्युजिअम संत निश्चल सिंह मैमोरियल को तैयार करने ाि जिम्मा महंत कर्मजीत सिंह ने उठाया है और इसके लिए वह दिन रात मेहनत कर ऐसे स्टैचु तैयार करवा रहे है कि मानो हक्ति ही सामने आ गई हो

Leave a Reply