नजायज चल रहे स्कुलो में शिक्षा विभाग ने डाली नकेल (विडिओ)

Haryana yamunanagar

यमुनानगर (लोकेश कुमार ) यमुनानगर के जगाधरी स्थित अमर विहार कालोनी में एक निजी स्कूल द्वारा एक पांच साल का मासूम की टीचर द्वारा पीटाई किए जाने के मामले में यहा परिजनो ने इस मामले में पुलिस को शिकायत दी है तो वही दूसरी तरफ आज शिक्षा विभाग की और से आज स्कूल में जाकर जांच की तो पता चला कि एक तो स्कूल मान्यता प्राप्त नही था दूसरा उसे एक दुकान की तरहा चलाया जा रहा था जिसे देखते हुए शिक्षा विभाग ने बंद करने के आदेश देते हुए स्कूल के बच्चों को पास के स्कूलों में शिफट करने की बात कही है एक  यमुनानगर के जगाधरी स्थित निजी स्कूल में पांच साल की बच्ची की इस लिए स्कूल की अध्यापिका ने पीटाई कर दी क्योंकि बच्ची ने होमवर्क नही किया था और ऐसे में जब बच्ची की डंडे से पीटाई की जा रही थी तो डंडा बच्ची की आंख में लगने से बच्ची की आंख खून से लथपथ हो गई थी और ऐसे में बच्ची की गंभीर हालत को देखते हुए उसे पीजीआई चंडीगढ रेफर कर दिया था लेकिन आज इस मामले में आज जब शिक्षा विभाग ने स्कूल में जाकर जांच की तो स्कूल के हालात शिक्षा विभाग को बद से बदतर नजर आए यही नही बच्चों के न तो बैठने की जगह और न ही शिक्षा का कोई उचित प्रबंध लिहाजा जब स्कूल की मान्यता के बारे में बात की तो पता चला कि स्कूल तो बिना मान्यता के ही चल रहा है ऐसे में स्कूल के बच्चो से शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने जब पूछताछ की तो बच्चों ने बताया कि उनकी डंडो से पीटाई की जाती है होमवर्क न किए जाने पर उनसे स्कूल की गंदगी तक उठवाई जाती है और ऐसे में बच्चो के परिजनों ने शिक्षा विभाग को लिखित में शिकायत भी दी

  स्कूल के हालत से लेकर हर तरफ से जायजा लेने के बाद शिक्षा विभाग ने इसे स्कूल न होकर एक दुकान करार देते हुए स्कूल पर कार्रावाई करने की बात कही तो स्कूल संचालिका ने अपनी तबियत के बिगड जाने का बहाना बना कर वहा से निकलने में ही भलाई समझी जबकि शिक्षा विभाग ने आज ही उससे इस मामले में जवाब मांगा है और कहा कि बिना मान्यता के कैसे स्कूल चलाया जा रहा था फिल्हाल इन सब को देखते हुए शिक्षा विभाग ने स्कूल में पढने वाले बच्चो को दूसरे स्कूलों में शिफट करने के साथ साथ स्कूल को बंद करने के आदेश कर दिए है विभाग की माने तो उन्होंने इस मामले में उचित कार्रावाई करने की भी बात कही है फिल्हाल बच्ची की हालत अभी भी गंभीर बताए जा रहे है जबकि परिजनों ने पुलिस में भी शिकायत दर्ज करा दी है और पुलिस अभी पीडित के ब्यान लेने के बाद आरोपी शिक्षक के खिलाफ कार्रावाई करने की बात कह रही है

Leave a Reply