तहसीलदार के आश्वासत करने पर समाप्त हुई पाँचवे दिन भूख हड़ताल

Chhatarpur Madhya Pradesh

“शुक्रवार को शाम 5 बजे दूध पिलाकर तहसीलदार श्री शुक्ला ने समाप्त कराई हड़ताल”

img_20161223_160042

(निर्णय तिवारी ) जिले की सीमान्त जनपद पंचायत क्षेत्रान्तर्गत में लम्बे अर्से से हुए अवैध बालू उत्खनन की उच्चस्तरीय जाँच कराए जाने और पहरा चौकी प्रभारी सन्तोष शर्मा के खिलाफ निलम्बन सहित सरपंचों के अधिकारों से जुडी विभिन्न 11 सूत्रीय माँगों को लेकर सोमवार से सरपंचों के साथ जनपद अध्यक्ष रामविशाल बाजपेई द्वारा जारी की गई भूख हड़ताल पाँचवे दिन शुक्रवार की शाम चार बजे समाप्त हो गई।
भूख हड़ताल के पाँचवे दिन शुक्रवार को धरना स्थल में सुबह 10 बजे नवागत तहसीलदार राकेश शुक्ला और थाना प्रभारी शैलेन्द्र यादव पहुँचकर धरनारत अध्यक्ष और सरपंचों से मुलाकात कर हड़ताल समाप्त करने सम्बन्धी चर्चा की।चर्चा के दौरान श्री बाजपेई ने अधिकारियों से कहा कि हम सभी सरपंचों से बात करने के बाद ही कुछ निर्णय ले पायेंगें।इस पर तहसीलदार श्री शुक्ला शाम को आने की कहकर, कमिश्नर के गौरिहार सम्भावित दौरे की तैयारी हेतु चले गए।एक बार पुनःशाम चार तहसीलदार श्री शुक्ला और जूझारनगर उप तहसील के नायब तहसीलदार ओमप्रकाश मिश्रा धरना स्थल पर पहुँचकर भूख हड़ताल में बैठे तीनों सरपंच और जनपद अध्यक्ष से चर्चा की।तहसीलदार श्री शुक्ला ने कहा कि आपकी सभी मांगे जनहित में हैं।इन माँगों के सबन्ध में जिले के आला अधिकारियों से हमारी बात हुई है।क्षेत्र में कमिश्नर साहब के दौरे के कारण वरिष्ठ अधिकारी मौके पर नही आ पाये हैं।आपकी हर जायज माँग पर उचित निर्णय लिया जाएगा।हड़तालियों द्वारा पहरा चौकी प्रभारी पर कार्यवाही की बात करने पर श्री शुक्ला ने आश्वासन दिया कि हमे कुछ और समय दीजिए,वरिष्ठ अधिकारियों ने कार्यवाही का भरोसा दिलाया है।दोनों राजस्व अधिकारी करीब 25 मिनट की हुई चर्चा के दौरान भूख हड़ताल करने वाले अध्यक्ष श्री बाजपेई,चुरयारी सरपंच प्रभुदयाल भुर्जी,पड़वार सरपंच नाथूराम राजपूत और हनूखेड़ा सरपंच बलदाऊ यादव को दूध पिलाकर अंततः हड़ताल समाप्त कराने में सफल हो गए।अध्यक्ष श्री बाजपेई ने हड़ताल समाप्त करने के पूर्व अधिकारियों से कहा कि यदि हमारी माँगों पर आपके द्वारा दिए गए
आश्वासन के बाद भी सुनवाई नही हुई तो हमें पुनः अनशन पर बैठने को मजबूर होना पड़ेगा।

Leave a Reply